banner
Jun 26, 2019
13 Views
0 0

कैलाश मानसरोवर यात्रा के रजिस्ट्रेशन शुरू : यात्रा करने से पहले जानले इसके बारे में

Written by
banner

अगर इस साल आप कैलास-मानसरोवर यात्रा का प्लान बना रहे हैं तो तैयारी शुरू कर दें। साल 2019 की कैलास मानसरोवर यात्रा के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू हो चुके हैं। विदेश मंत्रालय ने मंगलवार को इस बारे में घोषणा की। इस साल यह यात्रा नाथूला दर्रा और लिपुलेख दर्रे से 8 जून से 8 सितंबर के बीच आयोजित की जाएगी। 18 से 70 वर्ष के बीच के जो लोग यह यात्रा करना चाहते हैं वे 9 मई तक इसके लिए आवेदन कर सकते हैं।

मंत्रालय से जारी बयान में कहा गया कि यह यात्रा 8 जून से 8 सितंबर तक दो मार्गों से आयोजित होगी। इसमें कहा गया कि उत्तराखंड के लिपुलेख दर्रे से हो कर जाने वाले मार्ग से प्रति व्यक्ति यात्रा का खर्च 1.8 लाख रुपए आएगा। इसके लिये 60-60 श्रद्धालुओं के कुल 18 जत्थे बनाए जाएंगे।
प्रत्येक जत्थे के लिए यात्रा अवधि 24 दिन है जिसमें यात्रा संबंधी तैयारियों के लिए दिल्ली में तीन दिन तक रुकना शामिल है। मंत्रालय ने कहा, ‘यात्री चियालेख घाटी अथवा ‘ओम पर्वत’ की प्राकृतिक सुंदरता भी देख सकते हैं, इस पर्वत पर प्राकृतिक रूप से बर्फ से ओम की आकृति बनी होती है।’

मंत्रालय ने कहा कि नाथूला दर्रे से जाने वाला मार्ग मोटर वाहन और ट्रेकिंग न कर सकने वाले सीनियर सिटीजंस के लिए ठीक है। गंगटोक से गुजरने वाले इस मार्ग में हांगू लेक और तिब्बत पड़ता है। इस रास्ते से प्रति व्यक्ति खर्च 2.5 लाख रुपए आएगा और यात्रा अवधि 21 दिन की होगी। इसमें तीन दिन तक दिल्ली में रुकना शामिल है। मंत्रालय ने कहा कि इस वर्ष इस मार्ग से 50 श्रद्धालुओं के 10 जत्थे निर्धारित किए गए हैं।

बीते साल की तरह इस साल भी पहली बार आवेदन करने वाले, मेडिकल डॉक्टर्स और शादीशुदा लोगों को प्रायॉरिटी दी जाएगी। वहीं सीनियर सिटिजंस को नाथूला दर्रे से प्राथमिकता दी जाएगी।

यात्री या तो दोनों मार्ग चुन सकते हैं जिसमें वे प्राथमिकता बता सकते हैं या फिर केवल एक ही मार्ग चुन सकते हैं। कम्प्यूटर से ड्रॉ के जरिए उन्हें मार्ग और जत्था आवंटित किया जाएगा।

Article Categories:
Travel
banner

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

one × three =