banner
May 9, 2019
157 Views
2 0

हाजी अली दरगाह मुंबई

Written by
banner

हाजी अली दरगाह, पीर हाजी अली शाह बुखारी का स्मारक है और ये टापू पे स्थित है । पीर हाजी अली शाह बुखारी एक सूफी संत थे, जो की उज्बेकिस्तान के एक बड़े व्यापारी थे और इसी दरगाह में हाजी अली शाह बुखारी की कब्र है भी बानी हुई है ।

अगर आप हाजी अली मुंबई लोकल ट्रैन से आना चाहते है तो आपको महालक्मी रेलवे स्टेशन उतरना होगा और यहाँ से आप शेयर टेक्सी ले सकते है हाजी अली दरगाह आने के लिए । महालक्मी रेलवे स्टेशन से हाजी अली दरगाह जाने का किराया मात्र १० रुपये है । एक मात्र हाजी अली दरगाह ही मुंबई में टूरिस्ट प्लेस है जहा पे दिन में लाखों की तादात में सैलानी आते है और अगर बारिश में आना हो तो यहाँ का नज़ारा ही कुछ अलग होता है जिसे हम शब्दों में बयां नहीं कर सकते । हाजी अली दरगाह का निर्माण 1431 सैय्यद पीर हाजी अली शाह बुखारी की याद में किया गया था, और ये भी कहा जाता है की इन्होने मक्का की तीर्थयात्रा करने से पहले अपनी सारी संपत्ति त्याग दी थी।

छह सौ साल पुरानी दरगाह की संरचना लगातार खिसकती है, जो नमकीन हवाओं और प्रति सप्ताह लाखों श्रदालुओ के प्रभाव के कारण भी होती है। 1960 और 1964 में काफी नवीनीकरण किए गए । दरगाह को पहले और दूसरे दर्जे के सफेद संगमरमर से सुशोभित किया गया, जिसे मकराना, राजस्थान से लाया जाएगा।

Article Categories:
Travel
banner

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 + 2 =